Uttarakhand: अधिकारियों को पूर्व में दिए गए निर्देशों का पालन न होने पर मंत्री रेखा आर्या ने जताई नाराजगी, एक सप्ताह में प्रस्ताव बनाने के निर्देश

Uttarakhand: अधिकारियों को पूर्व में दिए गए निर्देशों का पालन न होने पर मंत्री रेखा आर्या ने जताई नाराजगी, एक सप्ताह में प्रस्ताव बनाने के निर्देश

  • जल्द कैबिनेट में लाई जाएगी महिला नीति, महिलाओं के लिए होगी कराकर साबित: रेखा आर्या
  • महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्या ने विभागीय अधिकारियों के साथ ही बैठक, पूर्व की बैठक में दिए गए निर्देशों का जल्द पालन करने के दिये निर्देश
  • विभागीय मंत्री रेखा आर्या ने अधिकारियों को महिला कल्याण के लिए प्राप्त हुई धनराशि और महिला नीति का प्रस्ताव बनाने के दिये निर्देश

देहरादून/लोक संस्कृति

आज अपने शासकीय आवास पर महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्या ने बाल विकास और महिला कल्याण की बैठक की।बैठक में मंत्री ने पूर्व की बैठक में दिए गए निर्देशों की प्रगति रिपोर्ट के बारे में जानकारी प्राप्त की। कैबिनेट मंत्री ने अधिकारियों को कहा कि महिला कल्याण के लिए जो लगभग 8 करोड़ धनराशि प्राप्त हुई है उसके लिए कार्ययोजना और जो नीति बननी है वह तैयार करें ताकि महिलाओ के लिए यह धनराशि काम आए।

उन्होंने कहा कि अधिकारियों द्वारा कुछ कार्य कर लिए गए हैं लेकिन अभी भी काफी काम शेष है जिसपर उनके द्वारा नाराजगी भी व्यक्त की गई है और अधिकारियों से कहा गया है कि जो भी नीति और कार्ययोजना बननी है उसे जल्द पूर्ण करें क्योंकि उनके द्वारा लगभग एक माह पहले बैठक में यह सभी निर्देश दिए जा चुके है ऐसे में किसी भी बैठक में दिए गए निर्देश का पालन ना होना सही नही है।

साथ ही कहा कि जल्द ही हम महिला नीति लाने जा रहे है जिसके बारे में भी अधिकारियों से कहा गया है कि इसका प्रस्ताव बनाये ताकि इसे जल्द ही कैबिनेट के समक्ष लाया जा सके।कहा की अभी यह नियोजन के स्तर पर बनी हुई है।इस नीति के बनने से हम अपनी उत्तराखंड की समस्त महिलाओं को सशक्त करने का काम करेंगे।वहीं जानकारी देते हुए बताया कि नंदा गौरा योजना की प्रगति के बारे में भी जाना कि अभी तक कितने लाभार्थियों ने ऑनलाइन माध्यम से पंजीकरण करा लिया है और जिन्होंने नही किया उन्हें किस प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

बैठक में इस अवसर पर सचिव हरि चंद सेमवाल, निदेशक  प्रशांत आर्य ,उनिदेशक विक्रम सिंह ,मुख़्य परिवीक्षा अधिकारी  मोहित चौधरी  उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *